top of page
  • लेखक की तस्वीरAjeet Kumar

कंप्यूटर क्या है | Computer Full Form | Parts | software and Hardware kya hai

आज हम आप लोगों को Computer के बारे में जानकारी देने वाले हैं। इसलिए लेख को पूरा जरूर पढ़ें। चलिये जानते हैं, Computer क्या है, और साथ ही इसकी विशेषताओं पर भी बात करेंगे।

Computer एक प्रोग्रामिंग डिवाइस है,
कंप्यूटर क्या होता है

कंप्यूटर क्या है और Computer Full Form क्या है।

computer एक मशीन है जिसे प्रोग्राम के आधार पर चलाया जाता है। इसे हिन्दी में संगणक कहते हैं।

कम्प्युटर का फुल फॉर्म :-"Commonly Operated Machine Particularly Used in Technical and Educational Research"


Computer क्या है? (What is Computer in Hindi?)

कंप्यूटर: "Computer एक प्रोग्रामिंग डिवाइस है, जो user के द्वारा दिये गए विभिन्न प्रकार के Data और information का विश्लेषण करके, उसे व्यवस्थित रूप से संचित करता है।"

computer kya hota hai

कंप्यूटर को हिंदी भाषा में संगणक कहा जाता है। साधारण शब्दों में, Computer एक प्रोग्रामिंग मशीन है, जो निर्धारित आँकड़ों पर दिए गए निर्देशों के अनुसार विशेषीकृत प्रक्रिया करके अपेक्षित परिणाम प्रस्तुत करती है।

प्रत्येक कंप्यूटर में CPU, RAM, और storage devices (Hard Disk और SSD) शामिल होते हैं। इनके अलावा इसमें Input devices और Output devices भी शामिल होते हैं, जैसे कि Monitor, Keyboard, Mouse, Printer, आदि।

Computer का अर्थ

Computer एक अंग्रेजी शब्द है। जिसे हिंदी में संगणक कहा जाता है। Computer अंग्रेजी भाषा के ‘Compute’ से उत्पन्न हुआ है जिसका अर्थ ‘गणना करना’ होता है।


Computer की परिभाषा (Definition of Computer)

“कंप्यूटर एक ऐसी डिवाइस है जो प्रोग्रामिंग के अनुसार user के द्वारा दिया गया Data प्रोसेस करता है। साथ ही Data को एकत्रित अथवा प्रदर्शित करने की क्षमता भी रखता है। यह Hardware और Software का एक ऐसा संयोजन है, जो Input Data को सूचना में परिवर्तित करके Output के रूप में प्रदान करता है।”


Note: Computer के कुछ मत्वपपूर्ण Parts भी होते है जैसे Input Device, Output Device, CPU, Monitor, Mouse, Memory और Storage Device आदि।

Computer Full Form क्या है

तार्किक रूप से कंप्यूटर का कोई पूरा नाम नहीं होता है। कंप्यूटर का पूर्ण रूप “कंप्यूटर” ही है, फिर भी Computer का एक काल्पनिक फुल फॉर्म है,

कंप्यूटर का कोई पूरा नाम नहीं होता है। कंप्यूटर का पूर्ण रूप “कंप्यूटर” ही  है
computer ka full form kya hai

  • C :- Commonly आम तौर पर

  • O :- Operated संचालित

  • M :- Machine मशीन

  • P :- Particularly विशेष रूप से

  • U :- Used प्रयुक्त

  • T :- Technical तकनीकी

  • E :- Educational शैक्षणिक

  • R :- Research अनुसंधान , खोज


Computer का आविष्कार किसने किया था?

कंप्यूटर का आविष्कार:- “चार्ल्स बैबेज” नमक वैज्ञानिक ने सन 1833 में एनालिटकल इंजन का आविष्कार किया था जो की आधुनिक कम्प्यूटर के आधार पर बना था,


चार्ल्स बैबेज को Computer का जनक माना जाता है इसीलिए इनको “Father of Computer” की उपाधी से सम्मानित किया गया


यह भी पढ़ें ।

Computer की विशेषताएं


Speed(गति):- एक कंप्यूटर बड़ी मात्रा में डेटा संसाधित करने में मानव की तुलना में तेज़ है क्योंकि यह कई गणनाओं को तेज़ी से और कम समय में कर सकता है।


Reliability(विश्वसनीयता):- कंप्यूटर अत्यधिक विश्वसनीय होने के लिए डिज़ाइन किए गए हैं, जिसका अर्थ है कि कंप्यूटर बिना टूटे या खराबी के बहुत लंबे समय तक लगातार चल सकते हैं।


Accuracy(शुद्धता):- वैज्ञानिक और डेटा विश्लेषक वैज्ञानिक अनुसंधान सटीक परिणामों की आवश्यकता वाले कार्यों के लिए कंप्यूटर का उपयोग करते हैं, क्योंकि कंप्यूटर उच्च स्तर की सटीकता के साथ गणना कर सकते हैं।


Computer के मुख्य कार्य क्या है?

Input: वह प्रकिया है, जिसमे हम Computer को कार्य करने के लिए Command देते है।

Process: इसमें Computer हमारे द्वारा दिए गए आदेश को प्रोसेस करता है।

Output: इस प्रक्रिया में जो भी आपने Computer को आदेश दिया होगा और जो Computer के द्वारा Process किया गया होगा वह आपको दिखाई या सुनाई देगा।

Computer के भाग कितने होते हैं?

➤ Motherboard:


किसी भी कंप्यूटर का मुख्य circuit board उसका Motherboard होता है। यह एक पतली प्लेट की तरह दिखाता है।

यह Computer के सबसे महत्वपूर्ण भागों में से एक है, जो Computer की सभी चीज़ों को जोड़ता है और उन सभी को काम करने के लायक बनाता है।

Motherboard के साथ ही सभी तरह के Connectors जैसे USB, Speakers, Power Supply unit, Processor, Ram, Cables आदि जुड़ते हैं।


➤ CPU/Processor:


CPU को Computer का मस्तिष्क भी कहा जाता है क्योंकि CPU ही Computer को चलने और सभी तरह की Calculations को हल करने में सहायता करती है।


Note: इसके बिना आप Computer में किसी भी तरह के काम को नही कर सकते है।


➤ RAM:


साधारण शब्दों में, RAM मे Data केवल कुछ ही समय के लिए Store होता है। जैसे ही आप Computer को Restart या Off करते है तो Data खुद Delete हो जाता है।

Full Form RAM “Random Access Memory” होता है।


Note:- Computer को कार्य करते रहने के लिए यह सबसे जरूरी Part है


➤ Hard Disc:


Hard Disc एक Hardware है जहाँ software, file और documents को save किया जाता है। इसमें आप data लम्बे समय तक store कर सकते हैं।

वर्तमान समय मे Hard Disc की जगह SSD ने ले ली है क्योंकि यह Hard Disc से कई गुना Fast है।

Computer हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर

कंप्यूटर को बनाने और उसको Operate करने के लिए उसमे मुख्य रूप से दो चीज़े जरूरी होती है। Hardware और Software.

इन दोनों के बिना कोई भी कंप्यूटर नही चल सकता है। Hardware और Software दोनों कंप्यूटर के पूरक होते है, तो चलिए जानते है:- Computer Hardware और Software के बारे में।

➤ Computer Hardware:

किसी भी कंप्यूटर के लिए सबसे जरूरी होता है उसका Hardware, Hardware ऐसी चीज़े होती है जिनको हम देख और छू सकते है। जैसे Hard Disk, Speakers, Dvd DRIVE, Motherboard, RAM, monitor,Processor आदि.इन्ही Hardware की सहायता से Computer को बनाते हैं।

➤ Computer Software:

कंप्यूटर का Software, जब आप किसी भी कंप्यूटर को Start करते है तो आपको कुछ Interface दिखाई देता है जिसको Windows कहते है जहाँ आप Web Browsing करते हैं और अपने Data को Store करने का काम करते है।


Note: Software का मुख्य कार्य होता है आपके Computer Hardware को Control करना और आपके Command के अनुसार कम्प्युटर को चलाना ।


कंप्यूटर के प्रकार

1. Desktop Computer:

Desktop Computer आज के समय मे आपको सभी के घरों में देखने को मिल जाएगा। ये Daily इस्तेमाल के लिए बने होते है

जिन पर आप अपने Online Work से Related Daily के कार्यो को बहुत ही आसानी से कर सकते हैं। इसके साथ साथ आप Desktop पर game भी खेल सकते हैं। और बड़े-बड़े काम भी कर सकते हैं।

जैसे;- High Graphic, Gaming, HD Video Editing, Animation Work आदि लेकिन इनको एक जगह से दूसरी जगह ले जाना बहुत मुश्किल है।

2. Laptop:

ऐसे Computers Multitasking के लिए बनाए जाते हैं। और इनको कह़ी भी आसानी से ले जाया जा सकता है। यह Computers वजन में काफी हल्के होते है


आपको बता दें की आप Laptop Computers में Games को अधिक समय तक नही खेल सकते है जिस प्रकार आप Desktop Computers में खेल सकते हैं। लेकिन आप इनपर Heavy Graphic कार्यो को आसानी से कर सकते है। जैसे कि Graphic Designing, Editing, Animation आदि।


3. Tablet:

हम Tablet को Handheld कंप्यूटर भी कहते हैं। क्यूंकि इसे बड़ी आसानी से हाथों में

पकड़ा जा सकते है।

Keyboard व Mouse इसमें नहीं होते, सिर्फ एक Sensitive touch स्क्रीन होता है।


4. Servers:

Server ऐसा कंप्यूटर होता है, जिसे हम Information के आदान प्रदान के लिए प्रयोग करते हैं।

उदहारण- जब हम कोई भी चीज़ Internet में खोजते है, तो वे सारी चीज़ें Server में ही store होती हैं।


131 दृश्य0 टिप्पणी

संबंधित पोस्ट

सभी देखें
bottom of page